20 आरोपितों के खिलाफ न्यायालय ने जारी किया वारंट

0
211

मधेपुरा :- मुरलीगंज मामले में दर्ज कांड संख्या 271/17 में न्यायालय ने 20 लोगों के खिलाफ वारंट व कुर्की जारी किया है. गौरतलब है कि गत दिनों मुरलीगंज के तीनकोनमा में मिले दर्जनों पशुओं के अवशेष के मामले में एक की गिरफ्तारी हो चुकी है. अररिया-मधेपुरा सीमा पर जेबीसी नहर से बड़ी संख्या में मिले मवेशी का अवशेष मामले में गठित एसआइटी ने सात सितंबर को छापेमारी अभियान चला कर  इस मामले में एसआइटी ने मुख्य आरोपित मौलाना अबूल कलाम को गिरफ्तार कर चुकी है. गिरफ्तारी के बाद आरोपित ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया है.

टीम सदस्यों के बीच उसने  15 से 20 अन्य लोगों की संलिप्तता उजागर की थी. इस मामले में पुलिस द्वारा न्यायालय से वारंट व कुर्की की मांग की थी.

क्या है मामला –
पांच सितंबर को मधेपुरा से गुजरने वाली जेबीसी नहर में मुरलीगंज तीनकोनमा के निकट नहर में मवेशी का अवशेष मिला था. इसे देखते ही मुरलीगंज व आसपास के क्षेत्रों में तनाव फैल गया. तनाव को देखते हुए उच्चाधिकारियों ने डीआइजी सौरभ कुमार के द्वारा एएसपी राजेश कुमार के नेतृत्व में मधेपुरा, पूर्णिया व अररिया जिला के विभिन्न थानाध्यक्ष को लेकर एसआइटी गठित किया था. एसआइटी ने जेवीसी नहर पर आकर मामले की जांच आरंभ के बाद कार्रवाई करते हुए वीरनगर छर्रापट्टी से मौलाना अबुल कलाम को गिरफ्तार कर पूछताछ के बाद जेल भेज दिया.

NO COMMENTS